Sport

महिला टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल:भारत Vs ऑस्ट्रेलिया, फाइनल कल मेलबोर्न मे होगा

महिला टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच रविवार को मेलबर्न में फाइनल खेला जाएगा। यह पहला मौका है, जब दोनों टीमें खिताबी जंग में आमने-सामने होंगी।

इस टूर्नामेंट में बारिश ने कुछ मौकों पर काफी निराश किया। दोनों सेमीफाइनल मैच के दौरान बारिश विलेन बनी, जिसमें भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले पहले सेमीफाइनल मैच का तो टॉस भी नहीं हो सका था। दूसरे सेमीफाइनल मैच में बारिश के चलते रिजल्ट डकवर्थ लुइस मेथड से निकला था।

महिला टी-20 वर्ल्ड कप में रविवार को मेलबर्न में भारतीय टीम 4 बार की चैम्पियन ऑस्ट्रलिया से भिड़ेगी। अब तक हुए 13 टी-20 वर्ल्ड कप (महिला और पुरुष) में यह पहला मौका है, जब ओपनिंग मैच खेलने वाली दोनों टीमें ही फाइनल खेलेंगी। टूर्नामेंट के पहले मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से शिकस्त दी थी। भारतीय टीम इससे पहले 2016 और 2018 के वर्ल्ड कप में ओपनिंग मुकाबले जीती थी। लेकिन, सेमीफाइनल से आगे नहीं बढ़ पाई। टूर्नामेंट के 11 साल के इतिहास में यह पहला मौका है, जब टीम इंडिया फाइनल खेलेगी। वो भी उसी टीम के खिलाफ, जिसे उसने ओपनिंग मैच में शिकस्त दी।

2009 के महिला टी-20 वर्ल्ड कप का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका और वेस्टइंडीज के बीच हुआ था, जिसमें वेस्टइंडीज जीता था। खिताबी मुकाबला इंग्लैंड- न्यूजीलैंड के बीच हुआ, जिसमें इंग्लैंड जीता। इसके 1 साल बाद हुए वर्ल्ड कप में भी दक्षिण अफ्रीका-वेस्टइंडीज ही ओपनिंग मैच में भिड़े और इस बार भी जीत कैरेबियाई टीम को मिली। हालांकि, फाइनल ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड खेले और कंगारू टीम पहली बार वर्ल्ड चैम्पियन बनी। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने लगातार 2 बार टी-20 वर्ल्ड कप का फाइनल खेला और दोनों ही बार वह खिताब जीतने में कामयाब रही। 

2009 से अब तक 7वां महिला टी-20 वर्ल्ड कप

कबओपनिंग मैचविजेताफाइनल मैचविजेता
2009 द.अफ्रीका-वेस्टइंडीजवेस्टइंडीजइंग्लैंड-न्यूजीलैंडइंग्लैंड
2010द.अफ्रीका-वेस्टइंडीजवेस्टइंडीजऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंडऑस्ट्रेलिया
2012श्रीलंका-द.अफ्रीकाद.अफ्रीकाऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंडऑस्ट्रेलिया
2014ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंडन्यूजीलैंडऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंडऑस्ट्रेलिया
2016भारत-बांग्लादेशभारतऑस्ट्रेलिया-वेस्टइंडीजवेस्टइंडीज
2018भारत-न्यूजीलैंडभारतऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंडऑस्ट्रेलिया
2020भारत-ऑस्ट्रेलियाभारतभारत-ऑस्ट्रेलिया

भारत टूर्नामेंट के शुरुआती तीन मैच पहले बल्लेबाजी करते हुए जीता

टीम इंडिया ने इस वर्ल्ड कप में शुरुआती तीन मुकाबले पहले बल्लेबाजी करते हुए जीते हैं। टूर्नामेंट के ओपनिंग मैच में उसने ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया, जबकि दूसरे मुकाबले में बांग्लादेश को 18 रन से मात दी। न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरा लीग मैच भारतीय टीम 3 रन से जीती।   

हेड टू हेड 

भारत ने अब तक कुल 122 टी-20 मैच खेले हैं। इसमें 67 जीते और 53 हारे हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने अब तक 19 मैच खेले हैं। इसमें 6 जीते, जबकि 13 में उसे हार का सामना करना पड़ा। दोनों टीमों के बीच वर्ल्ड कप में भी 4 मुकाबले हुए हैं। इसमें भारतीय टीम ने 2 जीते और इतने ही मैच हारे हैं। 

महिला टी 20 विश्व कप : भारत बनाम इंग्लैंड सेमीफाइनल वॉशआउट के बाद पहली बार भारत ने टी 20 विश्व कप फाइनल के लिए क्वालीफाई किया

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर बिना बॉल फेंके इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल खेलने के बाद भारत ने गुरुवार को महिला टी 20 विश्व कप में अपने पहले फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया।

भारत ने ग्रुप ए में चार मैचों में से चार जीत के साथ नॉकआउट में प्रवेश करने के बाद इसे बनाया। दूसरी ओर, इंग्लैंड में भारत की तुलना में बेहतर नेट-रन था, लेकिन उनके शुरुआती खेल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हार निर्णायक साबित हुई क्योंकि वे ग्रुप स्टेज में चार में से तीन गेम जीतने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गए।

“निराशा, विश्व कप को इस तरह से समाप्त नहीं करना चाहता था, लेकिन आप इस बारे में बहुत कुछ नहीं कर सकते। शायद एक आरक्षित दिन होने के लिए अच्छा होगा। दक्षिण अफ्रीका के लिए यह नुकसान हमारी लागत है। वास्तव में, हम तक पहुंचने की उम्मीद नहीं थी। सेमीफाइनल और वह हमने किया। मौसम के अनुसार। “इंग्लैंड के कप्तान हीथर नाइट ने कहा कि खेल बंद होने के बाद।

उन्होंने कहा, “मौसम के कारण खेल नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन यह है कि नियम कैसे चलते हैं। भविष्य में, आरक्षित दिन रखना अच्छा होगा। पहले दिन से ही हमें पता था कि हमें सभी खेल जीतने होंगे। अगर हम सेमीफाइनल में कोई खेल नहीं खेलते हैं, तो यह हमारे लिए कठिन होगा, ”भारत की कप्तान हरमनप्रीत कौर ने कहा।

सलामी बल्लेबाज शैफाली वर्मा और स्पिनरों पूनम यादव, राजेश्वरी गायकवाड़, राधा यादव और दीप्ति शर्मा के कुछ बेहतरीन व्यक्तिगत प्रदर्शन की बदौलत भारत ने ग्रुप स्टेज में ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, श्रीलंका और न्यूजीलैंड को हराया था।

लेकिन सिडनी में पूरे दिन बारिश का अनुमान है जहां दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा सेमीफाइनल स्थानीय समयानुसार शाम 7 बजे से खेला जाना है।

कोई आरक्षित दिन निर्धारित नहीं होने के कारण, दक्षिण अफ्रीका ग्रुप बी को जीतने के बाद गत विजेता और मेजबानों की कीमत पर फाइनल में जाएगा, अगर मैच पूरा नहीं हुआ।

इसका मतलब है कि महिला टी 20 विश्व कप में सीमित ओवरों के क्रिकेट में पहली बार विश्व खिताब के लिए दो फाइनलिस्ट आएंगे। फाइनल रविवार को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में 90,000 से अधिक की भीड़ के लिए आयोजकों के साथ हुआ।

आईसीसी महिला टी 20 विश्व कप 21 फरवरी से ऑस्ट्रेलिया मे शुरू

आईसीसी महिला टी 20 विश्व कप 2020 ऑस्ट्रेलिया में 21 फरवरी से शुरू होने वाला है। 10-टीम टूर्नामेंट में दो ग्रुप – ग्रुप ए और ग्रुप बी में विभाजित टीमें होंगी। अपने-अपने ग्रुप से शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल के लिए कट करेंगी।

मैच छह स्थानों – मनुका ओवल, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम, वाका स्टेडियम, जंक्शन ओवल और एमसीजी में खेले जाएंगे।

भारत की महिलाएं ग्रुप स्टेज में चार गेम खेल रही होंगी। हरमनप्रीत कौर की अगुवाई वाली टीम मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टूर्नामेंट के पहले दिन अपने ओपनर की भूमिका निभाएगी। वे अन्य मैच न्यूजीलैंड, श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ खेलेंगे।.

टीमों को दो ग्रोपो मे बता गया है :

ग्रुप ए: ऑस्ट्रेलिया, भारत, न्यूजीलैंड, श्रीलंका और बांग्लादेश

ग्रुप बी: इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्ट इंडीज, पाकिस्तान और थाईलैंड

टूर्नामेंट अनुसूची (सभी समय IST):

21 फरवरी

ऑस्ट्रेलिया महिला बनाम भारत महिला, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम, सिडनी में ग्रुप ए – दोपहर 1.30 बजे

२२ फरवरी

वेस्ट इंडीज महिला बनाम थाईलैंड महिला, ग्रुप बी वाका स्टेडियम में, पर्थ -11.30 बजे

न्यूजीलैंड महिला बनाम श्रीलंका महिला, ग्रुप ए में वाका स्टेडियम, पर्थ-शाम 4.30 बजे।

23 फरवरी

इंग्लैंड महिला बनाम दक्षिण अफ्रीका महिला, WACA स्टेडियम में ग्रुप बी, पर्थ-शाम 4.30 बजे

24 फरवरी

ऑस्ट्रेलिया महिला बनाम श्रीलंका महिला, ग्रुप ए में वाका स्टेडियम, पर्थ-सुबह 11.30 बजे

भारत महिला बनाम बांग्लादेश महिला, वाका स्टेडियम में ग्रुप ए, पर्थ-शाम 4.30 बजे

26 फरवरी

इंग्लैंड महिला बनाम थाईलैंड महिला, ग्रुप बी में मनुका ओवल, कैनबरा-सुबह 8.30 बजे

वेस्ट इंडीज महिला बनाम पाकिस्तान महिला, ग्रुप बी में मनुका ओवल, कैनबरा-दोपहर 1.30 बजे

27 फरवरी

भारत महिला बनाम न्यूजीलैंड महिला, ग्रुप ए में मनुका ओवल, कैनबरा-सुबह 8.30 बजे

ऑस्ट्रेलिया महिला बनाम बांग्लादेश महिला, ग्रुप ए में मनुका ओवल, कैनबरा-दोपहर 1.30 बजे

28 फरवरी

दक्षिण अफ्रीका महिला बनाम थाईलैंड महिला, ग्रुप बी में मनुका ओवल, कैनबरा-सुबह 8.30 बजे

इंग्लैंड महिला बनाम पाकिस्तान महिला, ग्रुप बी में मनुका ओवल, कैनबरा-दोपहर 1.30 बजे।

29 फरवरी

न्यूजीलैंड महिला बनाम बांग्लादेश महिला, जंक्शन ओ में ग्रुप ए, मेलबर्न-सुबह 8.30 बजे

भारत महिला बनाम श्रीलंका महिला, ग्रुप ए में जंक्शन ओवल, मेलबर्न-दोपहर 1.30 बजे

1 मार्च

दक्षिण अफ्रीका महिला बनाम पाकिस्तान महिला, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम में ग्रुप बी, सिडनी-सुबह 8.30 बजे

इंग्लैंड महिला बनाम वेस्ट इंडीज महिला, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम में ग्रुप बी, सिडनी-दोपहर 1.30 बजे

2 मार्च

श्रीलंका महिला बनाम बांग्लादेश महिला, ग्रुप ओ में जंक्शन ओवल, मेलबोर्न-सुबह 8.30 बजे

ऑस्ट्रेलिया महिला बनाम न्यूजीलैंड महिलाएं, जंक्शन ओवल, मेलबोर्न में दोपहर 1.30 बजे

3 मार्च

पाकिस्तान महिला बनाम थाईलैंड महिला, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम में ग्रुप बी, सिडनी-सुबह 8.30 बजे

वेस्ट इंडीज महिला बनाम दक्षिण अफ्रीका महिला, सिडनी शो ग्राउंड स्टेडियम में ग्रुप बी, सिडनी-दोपहर 1.30 बजे।

5 मार्च

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड, सिडनी में सुबह 8.30 बजे पहला सेमीफाइनल

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड-दोपहर 1.30 बजे दूसरा सेमीफाइनल।

8 मार्च

मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में फाइनल-दोपहर 1.30 बजे

टीवी प्रसारण


आप स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर मैच देख सकते हैं।

पीवी सिंधु विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप स्वर्ण जीतने वाली प्रथम भारतीय खिलाडी बनी ।

पीवी सिंधु विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप स्वर्ण जीतने वाली प्रथम भारतीय खिलाडी बनी ।

पीवी सिंधु ने जापान की नोजोमी ओकुहारा को सीधे गेम में हराया।जापान की तीसरी वरीयता प्राप्त नोजोमी ओकुहारा को 21-7, 21-7 से हराकर शानदार प्रदर्शन किया।

इस प्रक्रिया में, पाँचवीं वरीयता प्राप्त पीवी सिंधु ने विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में 2017, 2018 में अपना प्रदर्शन बेहतर किया और मार्की टूर्नामेंट जीतने वाली पहली भारतीय बनीं। भारत के स्टार-शटलर ने लगातार आक्रमण और बेहद सकारात्मक बैडमिंटन के साथ मैच की शानदार शुरुआत की, जिसमें कई प्रकार की विविधता और ठोस रक्षा मिली और पहले सेट में 11-2 से बढ़त बना ली।

हाँ, यह सबसे बड़ी भेंट है जो मैं अपनी माँ को दे सकता हूँ जो आज अपना जन्मदिन मना रही है और मैं इस जीत को अपने माता-पिता, दादा-दादी, कोच, गोपी अकादमी के सभी सहयोगी स्टाफ और साथी खिलाड़ियों को समर्पित करता हूँ जो हमेशा से रहे हैं मेरे साथ, ”पीवी सिंधु ने कहा।

मैं वास्तव में कड़ी मेहनत करूंगी और अगले साल टोक्यो गेम्स के लिए सुपर-सीरीज़ में सुपर सीरीज़ में अच्छा प्रदर्शन करके उस जीत को तैयार करूंगी ।

19 साल की हिमा का जबरदस्त प्रदर्शन, 11 दिन के अंदर जीता तीसरा गोल्ड मेडल।

19 साल की हिमा का जबरदस्त प्रदर्शन, 11 दिन के अंदर जीता तीसरा गोल्ड मेडल।

भारतीय स्टार धाविका हिमा दास का दमदार प्रदर्शन जारी है। उन्होंने दो हफ्ते के अंदर ही तीसरा गोल्ड मेडल जीत लिया है। हिमा ने महिलाओं की 200 मीटर दौड़ में 11 दिन के अंदर ही तीसरा गोल्ड मेडल हासिल कर लिया है। चेक रिपब्लिक में चल रहे क्लाद्नो मेमोरियल एथलेटिक्स मीट में ये गोल्ड हासिल किया। हिमा ने मात्र 23.43 सेकंड्स के समय में स्वर्ण पदक अपने नाम किया। इससे पहले वह 12 जुलाई को फिनलैंड के टाम्परे में आयोजित अंडर -20 एथलेटिक्स जूनियर चैंपियनशिप में महिलाओं की 400 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक जीतकर देश को गौरवान्वित  कर चुकी है।

जीत के बाद, हेमा दास ने कहा, “मैं देश में सभी भारतीयों और उन लोगों को भी धन्यवाद देना चाहती हूं, जो यहां मेरे साहस के पक्षधर थे। मैं अपने कंधों पर भारत का झंडा पकड़ने के लिए बहुत खुश हूं। 100 मीटर मेरी ताकत है। अब मेरा लक्ष्य एशियाई खेल है। लेकिन मेरा सपना ओलंपिक में जीतना है। ”
हेमा ने फिनलैंड के टेंपेरे में फाइनल जीतने के लिए 51.46 सेकेंड का समय लिया। वह इस चैम्पियनशिप की सभी श्रेणियों में स्वर्ण जीतने वाली भारत की पहली महिला बन गई हैं। वह स्पीयरहेड स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा की सूची में शामिल हो गईं, जिन्होंने 2016 में विश्व रिकॉर्ड प्रयास के साथ आखिरी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता था।

ऐतिहासिक सफलता पर, हेमा को पूरे देश से बधाई मिल रही है। अमिताभ बच्चन, शत्रुघ्न सिन्हा, अक्षय कुमार और फरहान अख्तर ने इस बड़ी जीत के लिए सोशल मीडिया पर भारतीय एथलीट हेमा दास को बधाई दी है।

जीत के बाद, हेमा दास ने कहा, “मैं देश में सभी भारतीयों और उन लोगों को भी धन्यवाद देना चाहती हूं, जो यहां मेरे साहस के पक्षधर थे। मैं अपने कंधों पर भारत का झंडा पकड़ने के लिए बहुत खुश हूं। 100 मीटर मेरी ताकत है। अब मेरा लक्ष्य एशियाई खेल है। लेकिन मेरा सपना ओलंपिक में जीतना है।

ICC वर्ल्ड कप 2019 : क्रिकेट की दुनिया में इंग्लैंड छठा नया वर्ल्ड चैम्पियन है ,रोमांचक मुकाबले में हराया न्यूजीलैंड को ।

 ICC वर्ल्ड कप 201:  क्रिकेट की दुनिया में इंग्लैंड छठा नया वर्ल्ड चैम्पियन है ,रोमांचक मुकाबले में हराया न्यूजीलैंड को ।

क्रिकेट वर्ल्ड कप के इतिहास में जो कभी नहीं हुआ वो रविवार को इंग्लैंड के लॉर्ड्स मैदान पर देखने को मिला. क्रिकेट की जनक कहे जाने वाली इंग्लैंड टीम ने न्यूजीलैंड को हराकर पहली बार इस खिताब को अपने नाम किया तो वहीं दूसरी तरफ उन्हें यह जीत जिस अंदाज में मिली वैसा भी कभी किसी वर्ल्ड कप फाइनल मैच में देखने को नहीं मिला. मैच टाई होने के बाद सुपर ओवर हुआ और सुपर ओवर में भी दोनों टीमों का स्कोर बराबरी पर अटक गया, बावजूद इसके इंग्लैंड की टीम सुपर चैम्पियन बन गई.

मेजबान टीम को यह ताज आईसीसी के नियमों की वजह से मिला है, जो कहता है कि अगर सुपर ओवर में भी मैच टाई हो जाए तो ज्यादा जिस टीम की पारी में ज्यादा बाउंड्री होती हैं, उसे ही विजेता मान लिया जाता है. इस हिसाब से देखा जाए तो इंग्लैंड ने अपनी 50 ओवर की पारी और सुपर ओवर में मिलाकर कुल 26 बाउंड्री मारी, जिसमें 24 चौके और दो छक्के शामिल हैं. जबकि न्यूजीलैंड ने सुपर समेत अपनी पारी में कुल 17 बाउंड्री ही लगा पाया.

लॉर्ड्स के मैदान में टॉस जीतकर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और 50 ओवर खेलते हुए 8 विकेट खोकर 241 रन बनाए. न्यूजीलैंड ने अपनी पारी में 14 चौके और 2 छक्के लगाए. इस तरह उसने बाउंड्री के सहारे 68 रन बनाए. वहीं, सुपर ओवर में न्यूजीलैंड की तरफ से सिर्फ एक बाउंड्री लग पाई, जब जिमी नीशाम ने छक्का लगाया. यानी न्यूजीलैंड ने अपनी 50 ओवर की पारी और सुपर में मिलाकर कुल 17 (14 चौके, 3 छक्के) बाउंड्री लगाईं. इस तरह बाउंड्री के सहारे ने न्यूजीलैंड ने कुल 74 रन बनाए.

जबकि दूसरी तरफ इंग्लैंड के बल्लेबाजों का आतिशी अंदाज ही उनकी जीत का कारण बन गया. न्यूजीलैंड 241 रनों के स्कोर का पीछा करते हुए इंग्लैंड के जिन बल्लेबाजों ने भी रन बनाए उसमें जमकर बाउंड्री लगाईं. जेसन रॉय, बेन स्टोक्स, जॉस बटलर और बेयरस्टो की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत इंग्लैंड ने 50 ओवर की पारी में कुल 22 चौके और 2 छक्के लगाए. जबकि दो चौके बेन स्टोक्स और जॉस बटलर ने सुपर ओवर में लगाए. इस तरह इंग्लैंड ने सुपर ओवर समेत अपनी पूरी पारी में कुल 26 बाउंड्री (24 चौके, 2 छक्के) लगाईं और इनके सहारे 108 रन जुटाए. वर्ल्ड कप के इतिहास में 23 साल बाद नया वर्ल्ड चैम्पियन देखने को मिला है. आखिरी बार श्रीलंका ने 1996 के वर्ल्ड कप में पहली बार वर्ल्ड कप जीता था. 1996 के बाद ऑस्ट्रेलिया ने 4 बार और वर्ल्ड कप जीता, जो 1987 में भी एक बार वर्ल्ड चैम्पियन बन चुकी थी. 2011 वर्ल्ड कप में भारत ने अपने दूसरे खिताब पर कब्जा किया था. इससे पहले वह 1983 में वर्ल्ड चैम्पियन बना था.

सबसे ज्यादा रन बनाकर रोहित शर्मा ने जीता ‘गोल्डन बैट’.

‘गोल्डन बॉल’ मिचेल स्टार्क को मिली.

प्लेयर ऑफ़ थे टूर्नामेंट बने केन विलिमसन.

ICC वर्ल्ड कप सेमीफाइनल 2019: वर्ल्ड कप जीतने का भारत का सपना टूटा न्यूज़ीलैंड ने 18 रन से हराया ,जडेजा ने खेली शानदार 77 रनो की पारी

 ICC वर्ल्ड कप सेमीफाइनल 2019: वर्ल्ड कप जीतने का भारत का सपना टूटा न्यूज़ीलैंड ने 18 रन से हराया ,जडेजा ने खेली शानदार 77 रनो की पारी  !

मैनचेस्टर में खेले गए ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को 18 रनों से हरा दिया. इसी के साथ भारत का तीसरी बार वर्ल्ड चैम्पियन बनने का सपना भी टूट गया. भारतीय टीम को सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड की टीम ने बेहद कसे हुए मुकाबले में शिकस्त दी

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड की टीम ने 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाए और भारत के सामने 240 रनों का लक्ष्य रखा. यह छोटा-सा टारगेट भी टीम इंडिया के लिए बड़ी चुनौती रहा. लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया 49.3 ओवर में 221 रन पर ही ऑलआउट हो गई.

न्यूजीलैंड लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंची है. उसने 2015 वर्ल्ड कप में भी फाइनल खेला था. फाइनल में न्यूजीलैंड का सामना ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच गुरुवार को खेले जाने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच की विजेता से होगा. मैनचेस्टर में कीवी टीम का यह तीसरा सेमीफाइनल है जिसमें से दो में उसे हार जबकि यह उसकी पहली जीत है.

वहीं भारत लगातार दूसरी बार सेमीफाइनल में हार कर वर्ल्ड कप से बाहर हुई है. 2015 में ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में भारत को हराया था. 240 रनों का पीछा करना ओल्ड ट्रेफर्ड की पिच पर आसान नहीं था क्योंकि बारिश और मौसम ने यहां की स्थितियां तेज गेंदबाजों के मुफीद बना दी थीं. भारत ने 92 रनों पर ही अपने छह विकेट खो दिए थे. यहां से रवींद्र जडेजा (77) और महेंद्र सिंह धोनी (50) ने सातवें विकेट के लिए 116 रनों की साझेदारी कर भारत को जीत के करीब पहुंचाया. यह वर्ल्ड कप में सातवें विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है.

ऐसा लग रहा था कि जडेजा और धोनी की जोड़ी भारत को फाइनल में पहुंचा देगी तभी ट्रेंट बोल्ट ने मैच का रुख बदल दिया. उन्होंने 208 के कुल स्कोर पर जडेजा को कप्तान केन विलियम्सन के हाथों कैच कराया. जडेजा ने 59 गेंदों का सामना कर चार चौके और चार छक्के मारे.

धोनी क्रीज पर भारत की आखिरी उम्मीद थे. आखिरी दो ओवरों में भारत को 31 रनों की दरकार थी. धोनी ने पहली गेंद पर छक्का मारा और दूसरी गेंद पर दो रन लेने चाहे. दूसरा रन लेने दौड़े धोनी, मार्टिन गप्टिल की डायरेक्ट हिट से पहले बल्ला क्रीज पर नहीं रख सके और यहीं भारत की उम्मीदें खत्म हो गई. धोनी ने 72 गेंदों का सामना कर एक छक्का और एक चौका लगाया.

लॉकी फर्ग्यूसन ने भुवनेश्वर कुमार (0) और जिमी नीशाम ने युजवेंद्र चहल (5) को आउट कर भारत को सेमीफाइनल में हार सौंपी. इससे पहले, भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और उसका मध्यक्रम एक बार फिर जिम्मेदारी भरी पारियों से अछूता रहा. भारत ने पांच रनों के कुल स्कोर पर अपने शीर्ष क्रम को खो दिया था.

हलाकि सोशल मीडिया पर कह जा रहा है कि महेंद्र सिंह धोनी जिस गेंद पर रन आउट हुए थे उसे उसे नो बॉल दिया जाना चाहिए था. ट्विटर यूजर्स का कहना है कि अंपायर ने धोनी के रनआउट के फैसले में पावर प्ले के दौरान फील्डिंग के नियमों को नजरअंदाज किया. लोगों का कहना है कि तीसरे पावर प्ले में तीस गज के दायरे के बाहर अधिकतकम 5 खिलाड़ी ही बाहर रह सकते हैं, लेकिन धोनी के रन आउट के वक्त 6 खिलाड़ी सर्कल से बाहर थे.

Ind vs NZ: मैनचेस्टर पर बारिश का साया, आज होगा वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल।

Ind vs NZ: मैनचेस्टर पर बारिश का साया, आज होगा वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल।

मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफर्ड  में मंगलवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला होना है. इस मैच पर बारिश का खतरा मंडरा रहा है. टॉस के ठीक बाद बारिश का अनुमान जताया जा रहा है.

आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 का पहले सेमीफाइनल मंगलवार को भारत-न्यूजीलैंड के बीच मैनचेस्टर में होना है. रिजर्व डे पर भी बारिश का साया है. अगर मंगलवार को दोनों टीमों के बीच बारिश के चलते मैच नहीं हो पाता है तो मैच रिजर्व डे के दिन यानी बुधवार को खेला जाएगा. अगर रिजर्व डे के दिन भी मैच बारिश से धुल जाता है तो लीग मैच के पॉइंट्स के आधार पर टीम इंडिया फाइनल में पहुंच जाएगी.

टॉस के बाद बारिश के आसार

एक्यूवेदर डॉट कॉम के मुताबिक, मैनचेस्टर में 9 व 10 जुलाई को बारिश की आशंका है. दोनों दिन आसमान में बादल छाए रहने का अनुमान है. साथ ही रुक-रुककर बारिश भी हो सकती है. ओल्ड ट्रेफर्ड में स्थानीय समयानुसार सुबह 10 बजे (भारतीय समयानुसार दोपहर 2:30 बजे) टॉस होना है, लेकिन यहां 9 जुलाई को स्थानीय समयानुसार सुबह 10 बजे बारिश होने 40% आशंका है. भारतीय समयानुसार 3.30 बजे बारिश 51%  होने की आशंका जताई गई है. ऐसे में टॉस भले ही बिना बारिश के हो जाए, लेकिन इसके बाद खेल में देरी हो सकती है.

 वर्ल्ड कप के पहले सेमीफाइनल में मंगलवार को भारत का मुकाबला न्यूजीलैंड से होगा। यह मैच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जाएगा। टीम इंडिया की नजर चौथी बार फाइनल में जगह बनाने पर होगी। दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम लगातार दूसरे वर्ल्ड कप में फाइनल खेलना चाहेगी। पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खिताबी मुकाबला हारने वाली कीवी टीम के लिए भारत को हराना आसान नहीं होगा। टीम इंडिया ने उसके खिलाफ पिछले 4 सालों में 69% वनडे जीते। दोनों टीमों के बीच 2015 वर्ल्ड कप के बाद से 13 मैच हुए। इनमें टीम इंडिया 9 में जीती। न्यूजीलैंड को 4 में ही सफलता मिली।

मैनचेस्टर में दोनों टीमें 44 साल बाद आमने-सामने होंगी। पिछली बार 1975 वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड ने भारत को 4 विकेट से हराया था। इसके बाद इंग्लैंड के मैदान पर दोनों टीमों के बीच दो और वनडे खेले गए। दोनों मुकाबलों में न्यूजीलैंड की टीम ही सफल रही। 1999 में नॉटिंघम में भारत 5 विकेट और 1979 में लीड्स के हेडिंग्ले में 8 विकेट से हारा था।

भारत अब तक सिर्फ 3 सेमीफाइनल हारा, जबकि न्यूजीलैंड ने 6 गंवाए
भारतीय टीम का वर्ल्ड कप इतिहास में यह 7वां सेमीफाइनल होगा। वह अब तक 3 बार जीती और 3 बार हारी। पिछले वर्ल्ड कप में उसे ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल में हराकर खिताब जीतने से रोक दिया था। टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली बार सेमीफाइनल खेलेगी। दूसरी ओर न्यूजीलैंड की टीम रिकॉर्ड 8वीं बार अंतिम-4 में खेल रही है, लेकिन यहां पर उसका रिकॉर्ड खराब है। उसे सिर्फ एक बार अब तक जीत मिली। 6 सेमीफाइनल में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

इंग्लैंड सेमीफाइनल में 27 साल बाद पहुंचा, पाकिस्तान का सेमीफाइनल पहुंचना नाममुकिन।

इंग्लैंड सेमीफाइनल में 27 साल बाद पहुंचा, पाकिस्तान का सेमीफाइनल पहुंचना नाममुकिन।

धवार को इंग्लैंड की न्यूजीलैंड पर 119 रन की बड़ी जीत के बावजूद पाकिस्तान की सेमीफाइनल में पहुंचने की राह आसान नहीं हुई। बल्कि अब उसके सामने असंभव-सी चुनौती है। दूसरी ओर, न्यूजीलैंड का हार के बावजूद सेमीफाइनल में पहुंचना तय है। एक आकलन के अनुसार पाकिस्तान को न्यूजीलैंड के मुकाबले नेट रनरेट सुधारने के लिए बांग्लादेश को करीब सवा तीन सौ रन से हराना होगा जो कि असंभव सा लगता है।

पहला गणित यह कि अगर पाकिस्तान 350 का स्कोर करता है तो उसे बांग्लादेश को 312 रनों से हराना होगा। दूसरा गणित यह है कि अगर पाकिस्तान 400 का आंकड़ा छूता है तो उसे बांग्लादेश को 316 रन के विशाल स्कोर से हराना होगा।

मतलब यह कि अगर पाकिस्तान पहले बल्लेबाजी करते हुए 400 रन बनाए तो उसे बांग्लादेश को 84 रन पर ऑलआउट करना होगा, जो कि असंभव है। यानी साफ है कि पाकिस्तान सेमीफाइनल में नहीं पहुंचेगा। साथ ही उसका वर्ल्ड कप 2019 से बाहर होना लगभग तय है।

बाद में खेले तो संभावना नहीं
दूसरी स्थिति में यदि पाकिस्तान की टीम बाद में बल्लेबाजी करती है तो उसकी आगे बढ़ने की कोई संभावना नहीं रहेगी। भले ही लक्ष्य एक रन का ही क्यों न हो।

वर्ल्ड कप के 41वें मुकाबले में खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही इंग्लैंड की टीम ने न्यूजीलैंड को 119 रनों से करारी शिकस्त दी। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली तीसरी टीम बन गई है। ऑस्ट्रेलिया और भारत पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं। चौथे नंबर पर न्यूजीलैंड की टीम है, जो सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर सकती है। पाकिस्तान अब भी सेमीफाइनल की रेस में कायम है, लेकिन उसका रास्ता बहुत कठिन है।

जॉनी बेयरस्टो के लगातार दूसरे शतक के बाद गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन की मदद से इंग्लैंड ने विश्व कप के अहम मुकाबले में न्यूजीलैंड को 119 रन से हराकर सेमीफाइनल में एंट्री ले ली है। इंग्लैंड के आठ विकेट पर 305 रन के जवाब में कीवी टीम 45 ओवर में 186 रन पर आउट हो गई। इंग्लैंड ने 1992 के बाद पहली बार विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाई है जबकि ऑस्ट्रेलिया और भारत अंतिम चार में जगह बना चुके हैं।

पाकिस्तान का अगला मुकाबला बांग्लादेश से पांच जुलाई को होना है। अगर वह बांग्लादेश को हरा देता तो उसके 11 अंक हो जाएंगे। ऐसे में न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के अंक बराबर हो जाएंगे। बराबर अंक होने की वजह से सेमीफाइनल का फैसला नेट रनरेट के आधार पर होगा।

CWC 2019 : वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत लगातार तीसरी बार पहुंचा, बांग्लादेश को 28 रनों से हराया ।

CWC 2019 : वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत लगातार तीसरी बार पहुंचा, बांग्लादेश को 28 रनों से हराया।

आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के 40वें मुकाबले में टीम इंडिया ने बांग्लादेश को 28 रनों से हरा दिया है. इसी के साथ भारत लगातार तीसरी बार वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंच गया है. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 314 रन बनाए. जवाब में बांग्लादेश की टीम 48 ओवर में 286 रन पर ऑल आउट हो गई.

भारत ने मंगलवार को एजबेस्टन मैदान पर खेले जा रहे आईसीसी विश्व कप-2019 के मैच में बांग्लादेश के सामने 315 रनों का लक्ष्य रखा. जवाब में बांग्लादेश की टीम 48 ओवर में 286 रन पर सिमट गई. इसी के साथ भारत लगातार तीसरी बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर चुका है.

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की और रोहित शर्मा के शतक के अलावा लोकेश राहुल के अर्धशतक के दम पर 50 ओवरों में 9 विकेट खोकर 314 रनों का स्कोर खड़ा किया. रोहित ने इस वर्ल्ड कप में अपना चौथा शतक लगाया। वे एक वर्ल्ड कप में 4 शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज हैं.उन्होंने सौरव गांगुली के 3 शतक का रिकॉर्ड तोड़ा। गांगुली ने 2003 में केन्या के खिलाफ 2 और नामीबिया के खिलाफ एक शतक लगाया था.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारत की सलामी जोड़ी ने बेहतरीन शुरुआत दी और 180 रनों की ओपनिंग साझेदारी की. इसके बाद रोहित शर्मा 104 रन बनाकर आउट हो गए. रोहित ने 92 गेंदों पर 7 चौके और 5 छक्कों की मदद से 104 रनों की पारी खेली. यह रोहित का इस विश्व कप में चौथा शतक है और वह इस विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज ही बन गए हैं. रोहित के अलावा केएल राहुल 77 रन बनाकर आउट हो गए. राहुल ने 92 गेंदों पर छह चौके और एक छक्के की मदद से 77 रन बनाए.

इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा कोई भी खिलाड़ी 50 रन पूरे नहीं कर सका. ऋषभ पंत ने 48 और महेंद्र सिंह धोनी ने 35 रनों का योगदान दिया. बांग्लादेश के लिए मुस्ताफिजुर रहमान ने 5 विकेट अपने नाम किए.

विराट कोहली 26 रन, कार्तिक 8 रन, धोनी 35 रन और भुवनेश्वर ने 2 रन बनाए. धोनी की बल्लेबाजी एक बार फिर सवालों के घेरे में है. उन्होंने अंत के ओवरों में 33 गेंदों में 35 रनों की धीमी पारी खेली.

बांग्लादेश की शुरुआत खराब रही और 39 रन के स्कोर पर ही पहला विकेट गिर गया. इसके बाद पूरे मैच में भारतीय गेंदबाजों ने बांग्लादेश खेमे से बड़ी साझेदारी नहीं बनने दी.

इसी के साथ ही भारत ने सातवीं बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बना ली. इससे पहले भारत ने 1983, 1987, 1996, 2003, 2011 और 2015 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. भारत लगातार तीसरी बार वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में पहुंचा।

ICC Cricket World Cup

                               V/S                                     
India 314/9                                                  Bangladesh 286
(50.0 ov)                                                     (48.0 ov)

 

रोहित शर्मा   104 (92)                           शाकिब अल हसन 66 (74)
मुस्तफिजुर रहमान   5-59                     जसप्रीत बुमराह    4-55                                                                              
                                                                                                      
Translate »