Day: August 25, 2019

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली और बीजेपी के दिग्गज नेता अरुण जेटली का निधन

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली और बीजेपी के दिग्गज नेता अरुण जेटली का निधन

पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन हो गया. उनको बीते 9 अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती करवाया गया था. उस समय उनको सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. लेकिन अस्पताल में भर्ती होने के बाद उनकी हालत लगातार बिगड़ती चली गई. कुछ साल पहले ही उनकी बैरियाट्रिक सर्जरी की गई थी. अरुण जेटली का पार्थिव शरीर कल बीजेपी मुख्यालय में रखा जाएगा और वहीं उनकी यात्रा निकलेगी. आज उनके दिल्ली स्थित निवास स्थल पर देश के दिग्गज नेताओं का तांता लगा रहा है. सभी ने अरुण जेटली के निधन को देश की क्षति बताया.

पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली का अंतिम संस्कार आज दोपहर बाद किया जाएग. इससे पहले सुबह 10 बजे जेटली का पार्थिव शरीर बीजेपी के मुख्यालय दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर ले जाया जाएगा, जहां दिन के 2 बजे तक उनके अंतिम दर्शन किए जा सकेंगे. इसके बाद 2:00 बजे से उनकी अंतिम यात्रा निगमबोध घाट के लिए शुरू होगी और शाम को 4:00 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा. बहरीन में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी.

विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं एवं भाजपा कार्यकर्ताओं तथा उनके प्रशंसकों ने जेटली को अंतिम विदाई दी.  जेटली का पार्थिव शरीर कांच के ताबूत में रखा गया.  नेताओं ने इस दौरान श्रद्धासुमन अर्पित किये और पुष्पचक्र चढ़ाये.    केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, हर्षवर्धन, जितेंद्र सिंह और एस. जयशंकर के अलावा बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा सहित विभिन्न नेताओं ने जेटली को अंतिम विदाई दी. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, अहमद पटेल, दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, राजीव शुक्ला के अलावा केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान तथा उनके पुत्र चिराग पासवान ने भी दिवंगत नेता को अंतिम विदाई दी.    योगी आदित्यनाथ, अरविंद केजरीवाल, नवीन पटनायक, कमलनाथ समेत विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने जेटली के आवास पर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी.

Translate »