Day: July 5, 2019

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज 11 बजे बजट पेश करेंगी। यह मोदी सरकार 2.0 का पहला बजट है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज 11 बजे बजट पेश करेंगी। यह मोदी सरकार 2.0 का पहला बजट है।

बजट पेश करने से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने पहुंचीं निर्मला सीतारमन। निर्मला सीतारमण बजट को लाल रंग के कपड़े में लपेटकर क्यों लाईं इसकी वजह मुख्य आर्थिक सलाहकार केवी सुब्रमण्यन ने बताई। उन्होंने कहा, ‘यह भारतीय परंपरा है। यह पश्चिमी विचारों की गुलामी से निकलने का प्रतीक है। यह बजट नहीं बही खाता है।’ इस बार बजट की कॉपी कुछ अलग अंदाज में देखी गई। हर बार जहां यह बड़े ब्रीफकेस में होती थी, वहीं इसबार निर्मला इसे लाल रंग के मखमली कपड़े में लेकर मीडिया के सामने आईं। कपड़े के ऊपर भारत सरकार का चिह्न भी था।

वैश्विक स्तर पर नरमी और मॉनसून की चिंता के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एनडीए सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट शुक्रवार को पेश करेंगी। बजट में राजकोषीय घाटे को काबू में रखने के साथ आर्थिक वृद्धि तथा रोजगार सृजन को गति देने पर सरकार का जोर रह सकता है। देशभर की नजरें शुक्रवार को पेश होने वाले इस बजट पर हैं। आइए समझते हैं कि नई सरकार के पहले बजट में किन क्षेत्रों को महत्व दिया जा सकता है।

शेयर बाजार की बात करें तो बजट से पहले सेंसेक्स और निफ्टी मामलू बढ़त के साथ बंद हुए थे। इसमें सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 68.81 अंकों यानी 0.17 फीसदी की बढ़त के साथ 39,908.06 पर और निफ्टी 30 अंकों यानी 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 11,946.75 पर रहा।

आर्थिक सर्वेक्षण में रिटायमेंट ऐज को बढ़ाने की भी सिफारिश हुई है। संसद में गुरुवार को पेश हुए आर्थिक सर्वे में कहा गया है कि भारत में महिला और पुरुषों की उम्र प्रत्याशा लगातार बढ़ रही है। अन्य देशों के अनुभवों के आधार पर पुरुषों और महिलाओं की रिटायरमेंट उम्र में बढ़ोतरी पर विचार किया जा सकता है।

आर्थिक सर्वेक्षण में ईमानदार टैक्सपेयर्स को सम्मानित करने का प्रस्ताव रखा गया है। इसमें देश के टॉप 10 टैक्सपेयर्स को ज्यादा टैक्स का रिवार्ड देने का प्रस्ताव। इसमें ईमानदार टैक्सपेयर्स के नाम पर स्मारकों, सड़कों, ट्रेनों, स्कूलों अस्पतालों और हवाई अड्डों के नाम रखने का प्रस्ताव दिया गया है।

आर्थिक सर्वे बजट से ठीक पहले देश की आर्थिक दशा की तस्वीर होती है। इसमें पिछले 12 महीने के दौरान देश में विकास का ट्रेंड क्या रहा, योजनाओं को किस तरह अमल में लाया गया, इस बारे में विस्तार से बताया जाता है।

गुरुवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्यसभा में इकॉनमी की हेल्थ रिपोर्ट यानी आर्थिक सर्वे पेश किया ।

यूनियन बजट के साथ-साथ आज रेल बजट भी पेश किया जाएगा। वित्त मंत्री ही इसे पेश करेंगी। 2017 में रेल बजट को आम बजट में शामिल किया गया था। इससे पहले रेल मंत्री आम बजट से एक दिन पहले रेलवे बजट संसद में पेश करते थे।

49 साल बाद आज बजट की कमान महिला के हाथ, इससे पहले 28 फरवरी 1970 को इंदिरा गांधी को यह मौका मिला था। बजट में नौकरीपेशा लोगों के लिए आयकर के मोर्चे पर टैक्स स्लैब में बदलाव की उम्मीद है। 2019-20 के अंतरिम बजट में 5 लाख रुपये तक की आय पर कर छूट देने की घोषणा की गई थी। मौजूदा वित्तीय वर्ष के लिए आर्थिक सर्वे में विकास दर का टारगेट 7% रखा गया है, जो पांच साल में सबसे कम रही पिछले साल की विकास दर (6.8 प्रतिशत) से ज्यादा है। इस वक्त देश के सामने कम विकास दर, वैश्विक सुस्ती और ट्रेड वॉर जैसी चुनौतियां हैं। सरकार टैक्स व्यवस्था बेहतर और कम ब्याज दर पर फोकस करके अर्थव्यवस्था को अगले स्तर पर ले जाने की कोशिश कर सकती है। गुरुवार को पेश हुए आर्थिक सर्वे से संकेत मिले हैं कि नए बजट में प्राइवेट निवेश की मदद से रोजगार पैदा किए जाएंगे। मोदी सरकार 2.0 आज अपना पहला बजट पेश करेगी। यह बजट वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की अगुवाई में पेश किया जाएगा।

Translate »