Day: June 22, 2019

ICC World Cup 2019 IND vs AFG :अफगानिस्तान के खिलाफ ऐसी हो सकती है भारत की प्लेइंग इलेवन

ICC World Cup 2019 IND vs AFG :अफगानिस्तान के खिलाफ ऐसी हो सकती है भारत की प्लेइंग इलेवन

वर्ल्ड कप के 28वें मुकाबले में अफगानिस्तान के सामने टीम इंडिया की मुश्किल चुनौती होगी। अफगानिस्तान क्रिकेट टीम ने अभी तक खेले गए पांचों मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है।

विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने इस टर्नामेंट की जोरदार शुरुआत की है। टीम ने अभी तक खेले 4 मैचों में एक में हार नहीं झेलनी है। भारतीय टीम ने अभी तक साउथ अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के खिलाफ शानदार जीत दर्ज की है। जबकि न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच रद्द हो गया था।

वर्ल्ड कप 2019 में भारत के प्रदर्शन में लगातार निखार हो रहा है। भारत ने पूरे खेले गए पिछले तीनों मैचों में क्रिकेट के हर क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन किया है। टीम की टॉप ऑर्डर ने हर मैच में रन बनाए हैं और मुस्तैद फील्डिंग के सहारे गेंदबाज़ों ने भी सधी हुई गेंदबाज़ी की है। लेकिन भारत की टीम मैनेजमेंट कुछ अहम खिलाड़ियों की चोट से थोड़ी परेशान ज़रूर है। हैमस्ट्रिंग में शिकायत की वजह से भुवनेश्वर कुमार की जगह अफगानिस्तान के खिलाफ अगले मैच में  मोहम्मद शमी को मैदान पर उतारा जा सकता है। वहीं, शिखर धवन भी अंगूठे में फ्रेक्चर की वजह से वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह 15 खिलाड़ियों में रिषभ पंत को शामिल कर लिया गया है।

ऐसी हो सकती है टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन:

रोहित शर्मा, केएल राहुल, विराट कोहली (कप्तान), हार्दिक पंड्या, एम एस धौनी, विजय शंकर/रिषभ पंत, केदार जाधव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव।

दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन में तकनीकी दिक्कत के कारण प्रवाभित हुए यात्री।

दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन में तकनीकी दिक्कत के कारण प्रवाभित हुए यात्री।

येलो लाइन पर दिल्ली मेट्रो देरी से चल रही है। इस दिक्कत का सामना विश्वविद्यालय से केंद्रीय सचिवालय के बीच सफर करनेवाले यात्री करेंगे। शुक्रवार को भी इस लाइन में दिक्कत थी।

दिल्ली मेट्रो की येलो लाइन पर यात्री शनिवार को सर्विस में देरी का अनुभव कर रहे हैं। दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) ने खुद इसकी जानकारी दी है। येलो लाइन पर विश्वविद्यालय से केंद्रीय सचिवालय और समयपुर बादली से कश्मीरी गेट पर मेट्रो देरी से चल रही है। इसके अलावा बाकी सभी लाइन पर मेट्रो की आवाजाही सामान्य है। बता दें कि शुक्रवार को भी येलो लाइन पर तकनीकी वजहों से करीब आधे घंटे तक ट्रेन ऑपरेशन प्रभावित हुआ था। इसके अलावा शुक्रवार को ही मेट्रो की मजेंटा लाइन (बॉटेनिकल गार्डन-जनकपुरी वेस्ट) के कालिंदी कुंज स्टेशन पर आग लग गई थी। यह आग नीचे फर्नीचर मार्केट में लगी थी जिसकी वजह से वहां मेट्रो सेवा 5 घंटे बाधित रही थी।

सबसे व्यस्त रूट माना जाता है येलो लाइन
बता दें, येलो लाइन को दिल्ली मेट्रो का सबसे व्यस्त रूट माना जाता है. यह लाइन दिल्ली के समयपुर बादली को हरियाणा के हुडा सिटी सेंटर से जोड़ती है. हरियाणा से दिल्ली को जोड़ने वाली इस लाइन पर रोजाना सैकड़ों की संख्या में लोग सफर करते हैं. मंगलवार को इस रूट में अचानक खराबी आने के कारण मुसाफिरों को अपने गंतव्य स्टेशन पहुंचने में काफी परेशानी हुई और कई यात्री तो कुतुब मीनार स्टेशन पर फंस गए. हालत इतनी खराब हुई कि लोगों को ट्रकों में खड़े होकर ऑफिस जाना पड़ा.

यहां पर बता दें कि इससे पहले 18 जून को भी यलो लाइन पर परिचालन हुआ प्रभावित हुआ था। इस कॉरिडोर पर पूरे दिन रुक रुक कर सिग्नल में खराबी की घटनाएं होती रहीं। बाद में इस कॉरिडोर पर एक युवक की आत्महत्या की घटना से भी परिचालन प्रभावित हुआ था।

डीएमआरसी ने बयान जारी कर कहा है कि येलो लाइन पर विश्वविद्यालय (Vishwavidyalaya ) और केंद्रीय सचिवालय (Central Secretariat) के बीच तकनीकी दिक्कत के चलते मेट्रो देरी से चल रही है, जबकि बाकी रूट्स पर मेट्रो यातायात सामान्य है।

बता दें कि येलो लाइन पर फिलहाल मेंटिनेंस का काम चल रहा है। डीएमआरसी के प्रवक्ता ने बताया था कि येलो लाइन पर राजीव चौक से गुड़गांव की तरह जाने वाली डाउन लाइन पर ट्रैक के किनारे साइड पैनल के मेंटिनेंस का कुछ जरूरी काम चल रहा था।

Translate »