Day: May 15, 2019

कोलकाता मे अमित शाह की रैली मे हुआ हंगामा और आगजनि,हंगामे मे भाजपा के कार्यकर्ता घायल।

कोलकाता मे अमित शाह की रैली मे हुआ हंगामा और आगजनि, हंगामे मे भाजपा के कार्यकर्ता घायल।

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान जमकर बवाल हुआ। तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प और आगजनी के बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसमें कई भाजपा कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आईं हैं। आरोप है कि वामपंथी और तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने शाह के काफिले पर पथराव किया, जिससे भाजपाई भड़क गए और स्थिति बेकाबू हो गई। शाह के खिलाफ नारेबाजी की गई।

अधिकारियों ने बताया कि जब अमित शाह का काफिला कॉलेज स्ट्रीट पर कलकत्ता विश्वविद्यालय के बाहर से गुजर रहा था तभी भाजपा कार्यकर्ता उनके समर्थन में नारेबाजी करने लगे। इसी दौरान कुछ वामपंथी और तृणमूल कार्यकर्ता ‘अमित शाह वापस जाओ’ के नारे लगाने लगे और उन्हें काले झंडे दिखाए।  विद्यासागर कॉलेज के प्रधानाचार्य गौतम कुंडु ने कहा, “ भाजपा समर्थक पार्टी का झंडा लिये हमारे दफ्तर के अंदर घुस आए और हमारे साथ बदसलूकी करने लगे। उन्होंने कागज फाड़ दिया, कार्यालय एवं संघ के कक्षों में तोड़फोड़ की और जाते वक्त विद्यासागर की आदम कद प्रतिमा तोड़ दी। उन्होंने दरवाजे बंद कर दिये और मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया।” उन्होंने कहा कि भाजपा समर्थकों ने कुछ छात्रों को चोटिल कर दिया।

कुछ कार्यकर्ता सुरक्षा घेरा तोड़कर काफिले की ओर बढ़ रहे थे तभी भाजपाइयों ने उन्हें रोका तो झड़प हो गई। दोनों गुटों के बीच जमकर मारपीट और आगजनी हुई। काफिले पर पथराव भी किया गया। इससे गुस्साए भाजपा समर्थकों ने कलकत्ता विश्वविद्यालय के छात्रावास के दरवाजे बंद कर दिए और साइकिलों एवं बाइकों को आग के हवाले कर दिया। उन्होंने इमारत पर पथराव भी किया। हालात बेकाबू होते देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस की टीमें आग बुझाने में लगी हुई थीं कि इसी दौरान कुछ लोगों ने विद्यासागर कॉलेज में बनी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ दी। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस का एक बड़ा दस्ता मौके पर पहुंचा और स्थिति को नियंत्रित किया।

पुलिस उपायुक्त शुभंकर सिन्हा नीत एक पुलिस टीम मौके पर पहुंची और कहा कि जांच शुरू हो गई है और दोषियों पर जल्द मामला दर्ज किया जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि कॉलेज स्ट्रीट पर कलकत्ता विश्वविद्यालय परिसर के बाहर झड़प तब शुरू हो गई जब एक समूह ने शाह के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी और उन्हें काले झंडे दिखाए। हालांकि पुलिस ने स्थिति को तेजी से नियंत्रित कर लिया था।

Translate »