Day: March 14, 2019

भारत ने सीरीज़ गवाई ,ऑस्ट्रेलिया 35 रन से जीता मैच सीरीज़ की आपने नाम 3-2 से।

भारत ने सीरीज़ गवाई ,ऑस्ट्रेलिया 35 रन से जीता मैच सीरीज़ की आपने नाम 3-2 से।

भारतीय क्रिकेट टीम बुधवार को फिरोज शाह कोटला मैदान पर साख की लड़ाई हार गई। ऑस्ट्रेलिया ने उसे पांचवें और निर्णायक वनडे मैच में 35 रनों से हरा दिया। इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने शुरुआती दो मैच गंवाने के बाद भी लगातार तीन मैच जीत 3-2 से सीरीज अपने नाम की और दस साल बाद भारत में वनडे सीरीज जीतने का सम्मान हासिल किया। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम के सामने 273 रनों का लक्ष्य रखा, लेकिन भारतीय टीम 50 ओवरों में सभी विकेट खोकर 237 रन ही बना सकी। इससे पहले ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 2009 में भारत में वनडे सीरीज जीती थी।

ऑस्ट्रेलिया की भारत में यह 10 वर्ष बाद पहली वनडे सीरीज जीत है। ऑस्ट्रेलिया ने इससे पहले 2009 में भारतीय सरजमीं पर 6 मैचों की सीरीज 4-2 से जीती थी। इस बार उसने पहले दो मैच गंवाने के बाद लगातार तीन मैच जीतकर सीरीज 3-2 से अपने नाम की

ऑस्ट्रेलिया के हाथों अपने घर में वनडे सीरीज 2-3 से हारने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि टीम और खिलाड़ी इस हार से निराश नहीं हैं, लेकिन उन्होंने माना कि विश्व कप में सफल होने के लिए सही फैसले लेने की जरूरत है। कोहली ने साथ ही कहा कि विश्व कप के लिए टीम संतुलित है और सिर्फ स्थान को लेकर जद्दोजहद है।

भारतीय क्रिकेट टीम को फिरोज शाह कोटला मैदान पर साख की लड़ाई हार गई। ऑस्ट्रेलिया ने उसे पांचवें और निणार्यक वनडे मैच (India vs Australia) में 35 रनों से हरा दिया।

चीन ने 10 साल में चौथी बार मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचाया

चीन ने 10 साल में चौथी बार मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचाया

चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएचसी) में देर रात जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने से फिर एक बार बचा लिया। 10 साल में यह चौथी बार है जब चीन ने इसके लिए अपने वीटो पावर का इस्तेमाल किया। फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका अजहर के खिलाफ यह प्रस्ताव 27 फरवरी को लाए थे। इस पर आपत्ति की समय सीमा (बुधवार रात 12:30 बजे) खत्म होने से ठीक एक घंटे पहले। चीन ने इस पर अड़ंगा लगा दिया।

Jaish-e-Muhammad chief Masood Azhar

चीन ने कहा कि वह बिना सबूतों के कार्रवाई के खिलाफ है। यही बात उसने तीन दिन पहले कही थी। इस पर अमेरिका ने चीन से गुजारिश की थी कि वह समझदारी से काम लें, क्योंकि भारत-पाक में शांति के लिए मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करना जरूरी है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा- चीन के रवैए से निराशा हुई। आतंकियों के खिलाफ हमारी कोशिशें जारी रहेंगी। भारत ने प्रस्ताव लाने और उसका समर्थन करने वाले देशों को धन्यवाद कहा है। इस बीच यूएनएचसी के सदस्यों ने चीन का चेतावनी दी है। चीन से कहा गया है कि अगर वह मसूद अज़हर को लेकर अपने रुख को नहीं बदलेगा तो दूसरी कार्रवाई के विकल्प खुले हैं।

 UN में एक राजनयिक ने बताया कि चीन ने प्रस्ताव को ‘टेक्निकल होल्ड’ पर रखा है। इस प्रस्ताव पर समिति के सदस्यों को आपत्ति जताने के लिए 10 कार्यदिवस दिए गए थे। भारतीय समयानुसार यह समयसीमा बुधवार रात 12.30 बजे खत्म हो रही थी। समिति के नियमानुसार प्रस्ताव पर तय वक्त तक आपत्ति नहीं आती है तो उसे स्वीकार मान लिया जाता है।

Translate »