Day: January 4, 2019

कोहरे का कहर, रेल से लेकर हवाई उड़ान तक प्रभावित, 55 ट्रेनें रद्द

दिल्ली: दिल्ली के कई हिस्सों में गुरुवार को घना कोहरा छाया रहा. जिस वजह से उत्तर रेलवे ने 55 ट्रेनों को रद्द कर दिया है और 25 को आंशिक रूप से रद्द कर दिया गया है. रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि कम विजिबिलिटी के चलते कम से कम 12 ट्रेनें देरी से चल रही हैं.

 

रेलवे ने बताया कि पुरी-नई दिल्ली पुरूषोत्तम एक्सप्रेस, हावड़ा-नई दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस, भागलपुर-आनंद विहार गरीब रथ एक्सप्रेस, वाराणसी-नई दिल्ली काशी विश्वनाथ एक्सप्रेस और न्यू जलपाईगुड़ी-नई दिल्ली एक्सप्रेस कई घंटों की देरी से चल रही है.

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में बेहद निम्न दृश्यता के चलते कई ट्रेनें प्रभावित हुई हैं और दो-तीन घंटों की देरी से चल रही हैं. हालांकि, उन्होंने बताया कि इस साल स्थिति पहले से बेहतर है, कोहरे से बुरी तरह प्रभावित रेलवे जोनों को सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराए गए हैं.

रेलवे नेटवर्क को कुछ 6940 सुरक्षा उपकरण दिए गए है, जिसमें से उत्तर रेलवे को 2648 अकेले उपकरण उपलब्ध कराये गये हैं. मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी में हल्का कोहरा छाया रहेगा.

कोहरे की वजह से उड़ान पर भी ब्रेक

घने कोहरे की चादर छाई रहने की वजह से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर विमानों का परिचालन दो घंटे तक बाधित रहा. एक सूत्र के मुताबिक दृश्यता कम होने की वजह से विमानों को सुबह साढ़े सात बजे से सुबह साढ़े नौ बजे तक प्रस्थान नहीं करने दिया गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जालंधर के लिए उड़ान में भी देरी हुई. मोदी ने जालंधर में भारतीय विज्ञान कांग्रेस में अपने भाषण में कहा, ‘मैं यहां समय पर पहुंचना चाहता था लेकिन कोहरे के कारण मुझे देर हो गई’.

इंदिरा गांधी हवाई अड्डे के सूत्र ने कहा, ‘कोहरे के कारण कम दृश्यता होने के चलते सुबह साढ़े सात बजे से साढ़े नौ बजे तक (विमानों का) प्रस्थान रोका गया. दो घंटे की इस अवधि में विमानों का आगमन सामान्य रहा. दृश्यता बेहतर होने के बाद सुबह करीब साढ़े नौ बजे विमानों का प्रस्थान शुरू हुआ.’ विमानों को उड़ान भरने के लिए कम से कम 125 मीटर की दूरी की दृश्यता की जरूरत होती है. सूत्र ने बताया, ‘सुबह साढ़े सात बजे से साढ़े नौ बजे के बीच दिल्ली हवाईअड्डे से कुल 10 विमानों का मार्ग बदला गया.’

सेना की वर्दी पहन ट्रेनिंग कैंप में दाखिल हुए तीन शख्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

महाराष्ट्र  : महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले में सेना के ट्रेनिंग कैंप में पुलिसने 3 लोगों को रंगे हाथों रेकी करने के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, यह तीनों शख्स सेना की वर्दी में परिसर में दाखिल हुए थे. 3 जनवरी को पुलिस ने शक के बिनाह पर एक शख्स को सेना के परिसर से गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार किए गए शख्स से पुलिस ने पूछताछ की, इसी दौरान पुलिस को खबर मिली की दो और लोग परिसर में सेना की वर्दी में घुसे थे.

खबर मिलने के बाद पुलिस ने तीनों ही आरोपियों को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है. हांलाकि अभी तक की पूछताछ में पुलिस को कुछ खास नहीं मिला है. एक अधिकारी ने बताया कि अहमदनगर स्थित सेना के ट्रेनिंग कैंप से गिरफ्तार किए गए तीन आरोपियों में से 2 उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं, जबकि तीसरा शख्स जिले के ही पारनेर तालुका का रहने वाला है.

तीनों शख्स के खिलाफ FIR दर्ज
जानकारी के मुताबिक, तीनों आरोपियों के खिलाफ भींगार थाने में एफआईआर दर्ज की गई है. आशंका जताई जा रही है कि यह तीनों ही शख्स सेना परिसर में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए गए होंगे. हालांकि किसी भी अधिकारी को अब तक ट्रेनिंग कैंप में शख्स के घुसने की वजह नहीं मिली है.

दिल्ली: पांच जनवरी से शुरू होगा अंतरराष्ट्रीय विश्व पुस्तक मेला

नई दिल्लीः नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेले (एनडीडब्ल्यूबीएफ) का 27वां संस्करण पांच से 13 जनवरी तक प्रगति मैदान में किताब प्रेमियों को रोमांचित करने के लिए तैयार है. संयुक्त अरब अमीरात का शारजाह, 2019 पुस्तक मेले का विशिष्ट अतिथि है. आयोजकों ने गुरुवार को कहा कि भारत व्यापार संवर्धन संगठन (आईटीपीओ) व नेशनल बुक ट्रस्ट (एनबीटी) पुस्तक मेले के सह आयोजक हैं. पुस्तक मेले की थीम ‘रीडर्स विद स्पेशल नीड्स’ रखी गई है, जो खासतौर पर बच्चों के लिए है.

मेले का उद्घाटन मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर करेंगे. एनबीटी के अध्यक्ष बलदेव भाई शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, “इस थीम के पीछे विचार यह है कि सम्मान व समानता की भावनाएं पैदा हों, सहानुभूति नहीं.” उन्होंने कहा कि इसका मकसद दिव्यांग लोगों के योगदान को कला, संस्कृति व साहित्य में योगदान के लिए प्रेरित करना है. उन्होंने कहा कि मेले के थीम पवेलियन में विशेष तौर पर ब्रेल किताबें, ऑडियो किताबें, प्रिंट-ब्रेल किताबें, लोगों व बच्चों व दिव्यांग लोगों के लिए प्रदर्शित की जाएंगी.

एक अंतर्राष्ट्रीय विकलांगत फिल्म महोत्सव ‘वी केयर’ में 27 देशों द्वारा 47 फिल्म स्क्रीनों पर प्रदर्शन होगा. इन देशों में भारत, कनाडा, अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, मिस्र, घाना, हांगकांग व कई यूरोपीय देश शामिल हैं. इस मेले का आयोजन 7 से 12 हॉल में होगा. एनडीडब्ल्यूबीएफ 1972 से इस साहित्यिक व सांस्कृतिक समारोह को आयोजित कर रहा है. प्रगति मैदान में निर्माण व नवीनीकरण के कारण जगह की कमी व कुल जगह का सिर्फ 22 फीसदी होने के बावजूद आईटीपीओ के कार्यकारी निदेशक दीपक कुमार ने कहा कि इस संस्करण में कई वैश्विक स्टालों के बीच दो दर्जन से ज्यादा भारतीय भाषाओं के स्टाल दिखेंगे.
पुस्तक मेले में शारजाह अतिथि प्रतिभागी है. शारजाह अपने पवेलियन में किताबों, साहित्यिक आयोजन, प्रकाशकों के संवाद, किताबों का विमोचन, कविता पाठ व बच्चों की गतिविधियां आयोजित करेगा. मेले में आने वाले लोग पवेलियन के बाहर अमीराती लोक बैंड का भी आनंद ले सकेंगे. पुस्तक मेले के लिए टिकट ऑनलाइन बुकमाईशो की वेबसाइट से लिए जा सकते हैं. इन्हें प्रगति मैदान से भी प्राप्त किया जा सकता है. टिकट का मूल्य बच्चों के लिए दस रुपये व वयस्कों के लिए बीस रुपये है.
Translate »