Day: September 26, 2018

मृतक के परिवार के दुखो में शामिल होने पहुंचे राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के युवा प्रदेश प्रधान महा सचिव और प्रदेश महासचिव

डुमराव बिहार |
पिछले दिनों एक सड़क दुर्घटना में हए डुमराव भोजपुर के निवासी रामेश्वर कुशवाहा के सुपुत्र की मौत हो गयी थी | जिनके याद में २५ सितम्बर को डुमराव प्रखंड भोजपुर में एक शोक सभा आयोजन हुआ जिसमे राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के बिहार प्रदेश प्रधान महासचिव अरुण कुशवाहा ,पार्टी के प्रदेश महासचिव योगेंद्र चौहान ,बक्सर जिला महासचिव रामजीआवन सिंह के साथ कई साथियों ने शोक सभा में सम्मलित होकर दुखी परिवार को सांत्वना दिया |
आपको बताते चले की बक्सर डुमराव संपर्क मार्ग की हालत बहुत ही ख़राब हो चुकी है | जगह जगह पानी के भराव और गढ्ढो के कारन हमेशा दुर्घटनावो की समभावनए यहां भी बानी रहती है |

हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के कारण दो की मौत और 300 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया

हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को मौसम खुल गया। उधर राज्य के लाहुल-स्पीति जिले में बर्फबारी में फंसे दो लोगों की मौत हो गई। जिले के सिस्सू, कोकसर व जिगजिगबार में फंसे करीब 600 लोगों में से अब तक 300 को सुरक्षित निकाल लिया गया है। इनमें आईआईटी मंडी के पांच सहायक प्रोफेसर व एक प्रशिक्षु और शैक्षणिक भ्रमण पर गए आईआईटी रुड़की के 45 विद्यार्थी शामिल हैं। अभी तक घाटी में करीब 300 लोग फंसे हुए हैं, जिनकी तलाश के लिए सेना के दो हेलिकॉप्टरों की मदद ली जा रही है। दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर में बारिश का सिलसिला थमने के बावजूद भूस्खलन व बाढ़ में बहने से छह लोगों की मौत हो गई।

पंजाब में मंगलवार को मौसम साफ होने से भले ही लोगों ने राहत की सांस ली हो लेकिन बाढ़ का खतरा अभी भी बरकरार है। प्रदेश में शनिवार से सोमवार तक तीनों में करीब 200 मिलीमीटर बारिश हुई है। प्रदेश की सतलुज, रावी, ब्यास व घग्गर नदियां उफान पर हैं। सरकार की चिंता पौंग डैम को लेकर है। यह लगभग भर गया है। यदि पानी छोड़ा जाता है तो होशियारपुर सहित आसपास के कुछ क्षेत्रों में बाढ़ आ सकती है।

गयाजी में देश-विदेश से पितृ तर्पण के लिए पहुंच रहे है लोग

गया । फल्गु की रेत पर कदमों के निशान बन-मिट रहे। इस निशान की बड़ी महत्ता है। मान्यता यह कि बस यहां पांव भर पड़ जाए तो पुरखों की  पीढिय़ां मोक्ष पा लेती हैं। रेत पर पांव पडऩे भर से मिली आत्मिक शांति की यह बयार इन दिनों देश से विदेश तक जा रही है।

हजारों की भीड़। नदी की बीच धारा में पतली से धारा बह रही है। पानी कम है, पर जहां की एक बूंद ही काफी हो वहां यह काफी है। अंजुलि में यही जल लेकर पितरों-पुरखों को याद करता हुजूम यहां यूं ही नहीं है। पितृपक्ष का पावन मेला शुरू हो चुका है।

सनातन आस्था के इस महान कर्मकांडीय स्वरूप को तो सिर्फ यहां आकर ही महसूस किया जा सकता है, जहां पूरे श्रद्धा भाव से लोग अपने पूर्वजों को याद कर रहे। यह सनातन ताकत ही है कि रूस, अमेरिका और दूसरे देशों से भी लोग यहां पहुंच रहे।

मंगलवार को मारिया अलेक्सांद्रवना, ख्वालिवोअन सबीना और एलेक्स आई यहां तर्पण को पहुंचे। सबीना रूस की हैं। यूएसए में साइकोलॉजिस्ट हैं। उन्होंने सनातन परंपरा पर काफी शोध किया है। गीता पढ़ा है। इस सनातन सत्य से काफी प्रभावित हैं कि ब्रह्मांड में निर्माण का सिलसिला चलता रहेगा। आत्मा अमर है।

भारत और अफगानिस्तान के बीच रोमांचक मैच टाई हुआ |

भारत और अफगानिस्तान के बीच मंगलवार को खेला गया सुपर-4 का आखिरी मुकाबला टाई हो गया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी अफगानिस्तान ने निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 252 रन बनाए। जवाब में टीम इंडिया की पूरी टीम 49.5 ओवर में 252 रन बनाकर ऑलआउट हो गई।

धौनी ने इस मैच में कप्तानी की थी। कप्तान के तौर पर ये उनका 200वां मैच था और वो टाई रहा। धौनी की कप्तानी में पांचवीं बार वनडे में कोई मुकाबला टाई रहा।

Translate »